led bulb making business in hindi: छोटीसी जगह से शुरू करे यह बिज़नस ओर महीने के लाखो कमाए, सरकार देगी सबसिडी, यहा जाने पूरा प्रोसेस।

led bulb making business in hindi

led bulb making business in hindi: दोस्तो, भारत सरकार ऊर्जा के क्षेत्र में बहुत तेजी से सुधार का काम कर रहा है और क्योंकि ऊर्जा का दोहन भी रोकना है, ऊर्जा की खपत को भी कम करना है और यही हमारे देश की प्राथमिकता भी है। इसी क्रम में भारत सरकार ने एलईडी बिजनेस को बहुत ज्यादा बढ़ावा दिया है और इससे संबंधित कई योजनाएं शुरू की हैं, जिनमें सब्सिडी भी दी जाती है, जिसमें कई तरीके के लोन की सुविधा भी दी जाती है।

led bulb making business in hindi। एलईडी बल्ब मेकिंग बिजनेस कैसे शुरू करें?

तो इस लेख में हम आपको जानकारी देने वाले हैं कि एलईडी बिजनेस को किस तरीके से आप कर सकते हैं। तो हम आपको बताएंगे एलईडी मेकिंग बिजनेस क्या है, इसका स्कोप और डिमांड क्या है? इसमें रॉ मटीरियल क्या लगेगा? क्या मशीन लगेगी? यूटिलिटीज क्या लगेगी? एलईडी मेकिंग बिजनेस टोटल लागत कितनी होगी? कमाई कितनी होगी? लोन और सब्सिडी की कहा से ले? इसकी पूरी जानकारी आपको देंगे। चलिए फिर शुरू करते है इस लेख को और जानते है LED Bulb Making Business kaise shuru karen?

What is the scope and demand of LED bulb making business। एलईडी बल्ब मेकिंग बिजनेस का स्कोप और डिमांड कितना है?

दोस्तों आज हर कोई अपने घर का बिजली का बिल कम करना चाहता है। इंसान को आज पता है कि एलईडी बल्ब लगाने से घर का बिल भी कम होगा। साथ ही साथ एक बार एलईडी बल्ब लगाने पर बहुत दिनों तक एलईडी बल्ब खराब होने के चांस नहीं होते हैं इसलिए इसकी लाइफ काफी ज्यादा होती है।

इसलिए एलईडी का बहुत ज्यादा डिमांड है। आप अपने एरिया में जाकर एलईडी का स्कोप देख सकते हैं कि कौन कौन से घर में एलईडी का इस्तेमाल हो रहा है। इस तरीके से आपका बिजनेस का स्कोप और डिमांड बहुत ज्यादा है और आप एलईडी बल्ब मैन्युफैक्चरिंग यूनिट खोल सकते हैं।

What raw material will be required in LED bulb making business । एलईडी बल्ब मेकिंग बिजनेस में क्या रॉ मटेरियल लगेगा?

पहला आपको जो रॉ मटेरियल लगेगा वह लेड चिप है जो लगभग 1200 से 1500 रूपये में आता है। इसके बाद रॉ मटेरियल के रूप में रेक्टिफायर मशीन, हीटिंग डिवाइस, मैटेलिक कैप होल्डर, प्लास्टिक बॉडी, कुछ रिफ्लेक्टर प्लास्टिक ग्लास, सोल्डरिंग फ्लक्स, कनेक्टिंग वायर, पैकेजिंग मटेरियल जैसे सामान लेने पड़ेंगे, यह रॉ मटेरियल है। जितना प्रोडक्शन करना चाहते हैं उस हिसाब से आपको रॉ मटेरियल लेने पड़ेंगे। सामान्य तौर पर बात करें तो आपको 50,000 से 1 लाख रुपये तक का सामान लेना पड़ेगा।

Read more: सिर्फ 10 से 12 हजार में शुरू हो जाएगा यह बिज़नस, रु20 का माल रु99 में बिकता है, महीने के लाखो कमाओगे

What machines and equipment will be required in LED bulb making business। एलईडी बल्ब मेकिंग बिजनेस में मशीन और इक्विपमेंट क्या लगेंगे।

तो एलईडी असेम्बलिंग यूनिट के लिए आपको मशीनरी और उसकी कीमत हम बता देते हैं। पहले आपको लगेगी सोल्डरिंग मशीन जोकि लगभग ₹300 में आ जाती है। इसके बाद कंपोनेंट फॉर्मिंग मशीन जो लगभग ₹85,000 से डेढ़ लाख रुपए की होती है। डिजिटल मल्टीमीटर जो की आपको ₹500 से ₹1000 में मिल जाएगा।

टेस्टर की बात करें दोस्तों तो एक स्पेशल टाइप का टेस्टर लेना पड़ेगा जो कि 500-700 रुपये के बीच में आता है। इसके बाद 1300 से 1500 के बीच में सीलिंग मशीन लेनी पड़ेगी। एमसीआर मीटर लेना पड़ेगा जो लगभग 2000 से 4000 रुपए में आता है। स्मॉल ड्रिलिंग मशीन लेनी पड़ेगी, जो लगभग ₹1,800 से ₹1,500 बीच में आता है। लक्स मीटर लेना पड़ेगा, जोकि लगभग 1200 से 1500 में आता है।

What will the utilities do in LED bulb making business। एलईडी बल्ब मेकिंग बिजनेस में यूटिलिटीज क्या लगेगी?

दोस्तों, इसमें आपको मैन पावर या हेल्पर या फिर कुछ स्किल्ड वर्कर लगेंगे जोकि आपको एलईडी बल्ब बनाएंगे। मशीन के हिसाब से पावर चार्जेस लगेंगे और साथ में आपको जगह लगेगी, रॉ मटेरियल कितना रखना है, आपको ऑफिस कितने में खोलना है, मशीन कितने में रखना है और आपका जो प्रोडक्ट बनेगा उसे कहां पर रखें। इस तरीके से आपको जगह का चुनाव करना है।

Cost in LED Bulb Making Business। एलईडी बल्ब मेकिंग बिजनेस में लागत।

दोस्तों लागत की बात करें तो इसे दो तरिके से अलग अलग किया गया है, एक फिक्स लागत, एक वर्किंग कैपिटल लागत। तो फिक्स की बात करें तो मशीनें और उपकरण है जो कि लगभग 1 से 2 लाख रुपए में आ जाएंगे। आपको अब जो वर्किंग कैपिटल हर बार लगेगा मतलब रॉ मटेरियल आप लाएंगे उससे प्रोडक्ट बनाएंगे तो यह बार बार लगेगा। इसमें जगह का किराया भी है, इसमें आपको सैलरी भी है, बिजली भी है। यह सभी खर्चा आपको 2 से 3 लाख रुपए लग सकते हैं।

यह डिपेंड इस पर भी करता है की आप कितना प्रोडक्शन करना चाहते हैं उस हिसाब से आपको रॉ मटीरियल लेना होगा। आप कौन सी जगह पर लेना चाह रहे तो उसका किराया भी उस तरीके का
होगा। सैलरी आप कितना दे रहे हैं उस पर भी डिपेंड करेगा। मशीन किस तरीके से लेकर है तो उसमें बिजली का खर्च उतना आएगा। तो इस तरीके से अगर ओवरऑल बात करें तो 5 लाख के अंदर आप यह बिजनेस शुरू कर सकते हैं और आप इस बिजनेस के लिए लोन भी ले सकते हैं। सरकार द्वारा सब्सिडी भी मिलती है।

Read more: इस नई मशीन से प्रतिदिन का ₹5,000 से ₹10,000 कमाए, सारा काम ऑटोमैटिक मशीन करेगी , 99% लोग नहीं जानते इसके बारे में।

Earning in LED bulb making business। एलईडी बल्ब मेकिंग बिजनेस में कमाई।

दोस्तों आप अगर इस बिजनेस को अच्छे से करते हैं और अच्छे से मार्केटिंग करते हैं तो 10 से 20 परसेंट तक कमाई कर सकते हैं। कहने का सीधा सा मतलब है कि अगर आपने ₹1 लाख खर्च किए तो आप 10000 से 20000 रुपए प्रति महीना कमा सकते हैं या इससे ज्यादा या कम हो सकता है।

यह डिपेंड कई बातों पर निर्भर करता है कि आपकी मार्केटिंग कैसी है, रॉ आपकी क्वालिटी क्या है बल्ब की और आप कितना अच्छे तरीके से बेच रहे हैं तो यह बहुत सारे फैक्टर डिपेंड करते हैं। लेकिन फिर भी सामान तौर पर आप 10000 से 20000 रुपए प्रति महीना या इससे ज्यादा भी कमा सकते हैं।

How to take loan and subsidy in LED bulb making business। एलईडी बल्ब मेकिंग बिजनेस में लोन और सब्सिडी कैसे लें?

इस बिज़नेस में प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम यानि पीएमईजीपी के तहत आप 25 लाख तक का लोन ले सकते हैं। और सबसे खास बात यह है की सिर्फ 15 से 35 फीसदी तक सब्सिडी दी जाती। मतलब 1 लाख आप लोन लेते हैं तो 35,000 गवर्नमेंट सब्सिडी देती है, मतलब माफ कर देती है।

एक और खास बात यह है कि इसमें आपको मात्र 5 से 10 परसेंट रुपए लगाना होता है। मतलब अगर आप ₹1 लाख का लोन लेना चाहते हैं तो मात्र आपको ₹5000 से लेकर ₹10,000 लगाना पड़ता है और जितना भी बचा वह सरकार आपको लोन देती है या बैंक आपको लोन प्रोवाइड करता है तो आप ₹10 लाख में अगर इस बिजनेस को स्टार्ट करते हैं तो मात्र आपके पास 50,000 से 1 लाख रुपए होने चाहिए और आप इस बिजनेस को स्टार्ट कर सकते हैं।

निष्कर्ष:

तो दोस्तों ऊपर दिए गए लेख में हम आपको बताएं हैं कि एलईडी बल्ब मेकिंग बिजनेस कैसे शुरू करें? दोस्तों आज के समय में हर एक इंसान के घर में एलईडी बल्ब का इस्तेमाल किया जाता है। एलईडी बल्ब हमारे आंखों के लिए भी अच्छी होती है और साथ ही कम बिजली बिल उठाता है। ऐसे में एलईडी बल्ब का हमेशा ही मार्केट में डिमांड रहने वाली है। अगर आप कोई बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो इसका शुरुआत आसानी से कर सकते हैं। इस लेख को पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।

Hello, friends, my name is Bhavesh, I am the author and founder of this blog, and through this website I share with you all the information related to business, education, automobile, technology and entertainment.

Leave a comment